real horror story in hindi | galat pooja ka bhayanak manjar

दोस्तो आज हम आपको बताने जा रहे है horror story in hindi के बारे मे जो बहुत ज्यादा भयानक है इस kahani मे बताया गया है कि अगर आप गलत पूजा करते है तो आपको उसके दुष्परिणाम कितने भयानक भुगतने पड़ते है इसका अनुवाद आज हम इस पोस्ट मे करने जा रहे है आप सभी से अनुरोध है क्रपया इस कहानी को पूरा पड़े तभी आपको पूरी कहानी सही से समझमे आयेगी आइये पड़ते है इस कहानी को। 


real horror story in hindi | गलत पूजा का भयानक मंजर 

real horror story in hindi
real horror story in hindi

यह कहानी पूरी तरह से सच्ची है इस कहानी के बारे मे हमे किसी व्यक्ति से पता चली है तो आप कहानी को सच्चा भी मान सकते है इस व्यक्ति के पूर्वजो ने कुछ गलतियाँ की थी जिसकी वजह से पूरा परिवार मुसीवत मे पड़ गया था। 


यह कहानी लगभग 50 से 60 साल पूरनी है। एक बहुत बड़ा परिवार करता था जहा पर सभी लोग मिल जुल कर रहा करते थे। इस परिवार के पास किसी भी बात की कोई कमी नहीं थी। पैसे से लेकर जमीन ज्यादाद सब कुछ था। इस परिवार मे लगभग 80 से भैसे पाली जाती थी। 




आप को अंदाजा हो गया होगा की इतनी भैसे पालना एक अच्छे परिवार की निशानी उस जमाने मे हुआ करती थी। आज से 50 साल पहले न तो फोन की सुविधा थी नाही ज्यादा वाहन की ये लोग उस जमाने मे अपने सभी काम वेल से कराया करते थे। 

real horror story in hindi
real horror story in hindi

जमीन का जोतना भी वेल ही किया करते थे क्योकि उस जमाने मे ट्रेक्टर जैसी कोई चीज नहीं थी। इस परिवार के सभी लोगो का जीवन ठीक ठाक चल रहा था ये परिवार काफी बड़ा था इस परिवार मे लगभग 50 से 60 लोग रहा करते थे। 


इस पूरे परिवार मे साल मे दो बार महाकाली की पूजा होती थी। ये पूजा एक तो दीपावली पर की जाती थी और दूसरी पूजा होली पर की जाती थी। इस पूजा मे अलगा प्रकार की सामाग्री शामिल की जाती थी ताकि महाकाली माँ हमेशा उन पर प्रसन्न रहे। 




माँ काली का भी आशीर्वाद भी इस परिवार पर था ये परिवार जो कुछ करता था वह जरूर सफल हो जाता था इसलिए ये परिवार फल फूल रहा था लेकिन कभी कभी किसी की नजर एसी लग जाती है कि अच्छा से अच्छा परिवार बिखर जाता है। 

READ MORE:- KHOONI DAYAN KA QAHAR



ऐसा ही इस परिवार के साथ हुआ। एक बार जब पूजा का समय आया उस समय पर दीपावली थी और महाकाली माँ की पूजा होनी थी लेकिन इस परिवार के मुखिया की बुद्धि भ्रष्ट हो गई थी। इस अवसर पर परिवार के मुखिया ने पूजा तो की लेकिन इस पूजा मे कुछ कमी रह गई। 

real horror story in hindi
real horror story in hindi




माँ काली की पूजा मे इस परिवार के मुखिया के हाथों एक गंभीर गलती हो गई जिसके कारण महाकाली का क्रोध इस परिवार पर पड़ना जरूर था। इस परिवार से महाकाली बुरी तरह से नाराज हो गई थी जिसका असर इस परिवार को दिखाई भी देने लगा था। 



माँ काली का क्रोध इस परिवार पर गंभीर रूप से पड़ने लगा था। इस परिवार मे रहने वाले लोगो के आलाबा इस जानवरों पर पड़ने लगा था। इस परिवार मे पलने जनवार बुरी तरह से बीमार होने लगे थे और धीरे धीरे करके मरने भी लगे थे। 



इस परिवार के पास 80 भैसे थी जो रोजाना एक एक कर कर मर रही थी। ये परिवार समझ नहीं पाया था कि इसकी आखिर क्या वजह हो सकती है। इस तरह से ये सभी भैसे मारी जा चुकी थी। अब नंबर इन्सानो पर भी लग चुका था। अब इस परिवार के लोग भी धीरे धीरे मरने लगे थे। 



जब तक इस परिवार के लोगो को ये पता चलता है कि उनकी माँ महाकाली उनसे नाराज हो गई है जब तक बहुत देर हो चुकी थी। इस परिवार के लगभग 40 से 45 लोग मारे जा चुके थे। बचे हुए लोगो ने अपनी जान बचाने के लिए इस जगह को छोड़ दिया था। 



तभी इन बचे हुए लोगो की जान बच पाई थी। इन बचे लोगो ने इस कहानी को बताया था कि अगर आप किसी चीज की पूजा करते है तो बहुत सावधानी के साथ करनी चाहिए और उस पूजा की आपके पास पूरी जानकारी होनी चाहिए तभी आप किसी चीज की पूजा करे। 




ये कहानी पुरवाजों से लेकर आज की पीड़ी तक पहुच चुकी है। उस परिवार के कुछ सदस्य आज भी शहरों मे रहते है और अपने बच्चो को अपने पूर्वजो की ये गलती की कहानी बताते रहते है। 


दोस्तो कोई भी काम सही ढंग से नहीं करेंगे तो आप उस चीज का नुकसान उठाएंगे। चाहे कुछ काम अपने जीवन मे करो उस काम को सही ढंग से करना उचित रहता है गलत तरीके से किए गए काम के आपको गंभीर परिणाम उठाने पड़ सकते है। 


दोस्तो आप क्या कहना चाहते है इस horror story in hindi के बारे मे हमे कमेंट मे जरूर बताए अगर आप इस तरह की कहानियाँ पड़ना पसंद करते है तो हमारे ब्लॉग का नाम जरूर ध्यान रखे आपका दिन शुभ रहे। 

Post a Comment

6 Comments

  1. Useful info. Fortunate me I discovered your website by accident, and I am surprised why this
    coincidence didn't took place in advance! I bookmarked it.

    ReplyDelete
    Replies
    1. धन्यबाद सर हमारे ब्लॉग से जुडने के लिए

      Delete
  2. Its like you read my mind! You appear to understand so much approximately this, such as you wrote the e
    book in it or something. I believe that you just can do with some % to power the message
    home a bit, but other than that, that is wonderful blog.
    An excellent read. I will definitely be back.

    ReplyDelete
  3. Thanks to my father who informed me on the topic of this weblog,
    this blog is truly awesome.

    ReplyDelete
    Replies
    1. मेरी तरफ से आपको और आपके पिता जी को दिल से नमस्कार

      Delete