bhoot ki kahani chudail ki mohabbat

                                         chudail ki mohabbat  
                                       











bhoot ki kahani chudail ki mohabbat
bhootkikahani.in


दोस्तों आज हम आपको एक एसी चुड़ैल की कहानी बताने जा रहे हे जो खतरनाक होने के बाबजूद भी  इश्क कर बैठती हैं .

संजय नाम लड़का (काल्पिनिक नाम ) था उसकी शादी फ़िलहाल में हुई थी शादी चलते वह बहुत खुश था . वह इतना किस्मत वाला था जहा पर भी वह हाथ रख दे कभी खाली नहीं जाता था . चाहे वो जुआ हो या सट्टेबाजी का काम 70 % उसकी किस्मत उसका साथ देती थी . लेकिन किसी चीज का आदी नहीं था . वह काफी बारीब था रोजाना 200 या 250 रुपए में अपना घर का खर्च चलाता था .लेकिन वो इतने भी खुश था शादी को दो साल ही हुए थे की एक रात जब संजय सो रहा होता था तो उसके सपने में एक ओरत दिखाई देती वह ओरत दिखाई देती रही न ही उसने परेशांन किया न ही संजय से कोई बात की जब संजय सुवह को उठा तो सपने को लेकर कोई प्रितिकिर्या नहीं की ओर नज़र अंदाज कर देता हे ओर अपने काम पर चला जाता हैं bhoot ki kahani.


जब काम से घर लोट के आता हे ओर खाना खा पीकर सो जाता हैं . ये घटना दुवारा घटती उसके सपने में वह ओरत पलट कर खड़ी हुई होती हे  उसके केवल बाल हि दिखाई पड़ रहे थे चेहरा नहीं दिखाई पड़ रहा था . न तो वो डरा रही थी न बात कर रही थी . संजय डर से उठता हे ओर फिर सो जाता हैं फिर पूरी रात उसके सपने वह ओरत नहीं आई सुवह होने संजय ने अपनी पत्नी उस ओरत के बारे में बात करता हे जो उसके सपने आई थी .तो पत्नी कहती हे की तुम हारे थके शाम को घर आते हो थकन से तुम्हे एसा लगता हे यह तुम्हारा बहम हैं .संजय ने बीबी की बात को मानकर कर फिर से उस ओरत को नजर अंदाज कर दिया .

अगली रात संजय के सपने सपने में आकर वह ओरत संजय पूरी तरह से जकड लेती हे पुरे शारीर को बांध देती हे संजय झट पटाता रह जाता अपने आप को छुड़ाने की बहुत कोशिश करता हे वह ओरत एक चुड़ैल के रूप में पीछे से खडी हो जाति हे खतरनाक आबाजों से डारने लगती हैं .कुछ देर बाद संजय को छोड़ देती हे डर से जल्दी से उठता हे अपनी बीबी को इस घटना के बारे में बताता हे डर से पति पत्नी पूरी रात नहीं सो पाते सुवह होते ही संजय पडोश में रहने वाले पंडित जी घर जाता हे पंडित जी संजय से को 7 दिन के लिए पूजा पाठ करने को बोलते हे संजय रोजाना पूजा पाठ करने लगता हे रोज अपने काम पर जाता हे संजय को वह चुड़ैल दिखाई नहीं देती हैं . bhoot ki kahani 



जब उसको आराम लगने लगता हे तो 7 दिन के बाद पूजा पाठ करना बंद कर देता हे दो रातें हि गुजरी थी तीसरी रात वह चुड़ैल संजय के सपने में फिर आती हे संजय डर तो जाता हे लेकिन मजबूत दिल करके उस चुड़ैल से बात करने की कोशिश करता हे चुड़ैल संजय से कहती हे की तुम मुझसे भागने के लिए पूजा पाठ करना शुरू कर दिया था एसा मत करना मुझे बहुत तखलीफ़ होती हैं संजय ने पूजा पाठ दुबारा नहीं की जब वह चुड़ैल उसके सपने आई और पीठ की तरफ से  बात करने लगी उस चुड़ैल को भी संजय से थोडा लगाब हो गया था . संजय ने भी उस चुड़ैल से डरना बंद कर दिया था वह काफी दिनों तक बात करने लगे तो संजय ने उस चुड़ैल से अपना चेहरा दिखाने की जिद्द की लेकिन चुड़ैल ने संजय से मना कर दिया ओर कहा की तुम चेहरा देख लोगे तो मुझ से दूर जा सकते हो या तुमसे बर्दास्त न हो संजय चेहरा देखने की जिद्द दुबारा नहीं करता हैं bhoot ki kahani .




उन दोनों को बात करते - करते एक महिना हो गया तो वह चुड़ैल ने सपने में एक लाटरी का नंबर दिया ओर कहा की यह नंबर कल आएगा .संजय थोडा विश्वाश भी नहीं किया जब सपने में दोनों बात हुई तो चुड़ैल ने बाताया की मेने तुम्हे नंबर लगाने को कहा था तुमने लगाया संजय भूल जाने की बात करता हे अगले दिन चेक करता हैं तो बही नंबर लाटरी में खुला था .संजय उस चुड़ैल पर विश्वाश आया . संजय साथ जो बूरा अगले दिन होने बाला था उसको वह रात में हि बता देती थी . संजय अगले दिन की पूरी जानकारी मिल जाती थी वह उसी ढंग से चलता था . ओर काफी लाभ उठाया संजय को चुड़ैल के संपर्क में 8 महीने हो गए तो संजय ने सोचा की मुझसे कोई लगती हो गयी तो यह चुड़ैल हमारे परिवार के लिए नुकशान दायक हो सकती हैं . संजय ने अपने परिवार के लिए उस चुड़ैल को छोड़ने की ठानी ओर तांत्रिक के पास जाकर पूरे तरीके उस चुड़ैल छुटकारा पा लिया फिर वह कभी भी संजय के पास दुबारा नहीं आई .और संजय वेसी ही ज़िन्दगी जीने लगा जेसी पहले जीता था .

bhoot ki kahani 

Post a Comment

2 Comments

  1. कहानी पड़ने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यबाद

    ReplyDelete