bhoot pret ki sachhi kahani bhooto ki duniya in hindi

bhoot pret ki sachhi kahani bhooto ki duniya 











bhoot pret ki sachhi kahani:- 10 साल पहले में photo ग्राफिक का काम सीख रहा था . तो मुझे ज्यादातर हाईलोजन में लगी डोरी पकड़ने का काम मिलता था . ज्यादातर शादी में विडियो ग्राफिक करने जाया करते थे जो हमारे साथ कैमरा चलाता था वो मोम्दन था उसके साथ ही में ज्यादा जाता था धीरे धीरे मुझसे भी फोटो ग्राफिक का काम आ गया और मेने फोटो ग्राफिक का काम करने लगा एक बार बुकिंग आई जो लड़का था उसी के जानने बाले के यहाँ से बुकिंग थी वोह बुकिंग हमारे यहाँ से 10 किलो मीटर दूर थी हम बहा पर गए बहा कोई मिया का कोई प्रोग्राम हो रहा था जहा पर बहुत सारे लोग आये हुए थे और मिया जिनकी उमे लगभग 55 के आस पास होगी उन मिया को जेसे दूल्हा सजाया जाता है उसी तरह मिया सजे हुए थे हम उस प्रोग्राम को शूट करने लगे थे प्रोग्राम चलता गया बाद में खाना हुआ रात के 11 या 12 बजे का टाइम हो चूका था हम दो घंटे छत पर  सो गए मेरे साथ जो लड़का था उसने मुझे 3 बजे के टाइम उठाया और नीचे कुछ हो रहा था उसे शूट करने के भेजा जब में नीचे गया तो वोह मिया बेठे थे उन मिया के साथ दो मिया ओर साइड में बेठे थे बहुत से वहा पर बच्चे महिलाये आदमी 25 से 30 लोग वहा पर मिया के सामने बेठे हुए थे मेने हाईलोजन जलाकर कैमरा on करके सभी की विडियो बनाने लगा.



तो वोह मिया एक आदमी पे कुछ मंत्र फूक कर फूक मारता तो आदमी सर को घुमाने लगता और फिर फूक मारता तो आदमी बेहोश हो जाता मुझे यह देखकर थोड़ी हसी आ रही थी लेकिन मुझे रत्ती भर विश्वाश नहीं हो रहा था में समझ रहा था की ये लोग सिर्फ तमाशा कर रहे हैं एसा 1 घंटे तक चलता रहा मुझे सिर्फ एक नाटक लग रहा था . मिया ने कई आदमियों को एसा किया रात के चार बजे के टाइम एक छोटी सी बच्ची वहा पर थी उसकी उम्र लगभग 7 या 8 साल की होगी उस बच्ची यह भी नहीं पता था की नाटक किस चीज को कहते हैं वह बच्ची उदास सी बेठी थी जब इस बच्ची को बुलाया तो ये बच्ची आराम से बेठी थी जब मिया ने मंत्र फूका तो ये बच्ची झुमने लगी 10 मिनट तक झूमती रही मिया बच्ची से पूझ रहा था बता तू कौन हैं . बच्ची ने कोई जबाब नहीं दिया जब मिया मंत्र पड़कर फूका तो बच्ची बेहोश हो गयी तब मुझे समझ में चूका था ये बच्ची नाटक नहीं कर रही थी ये हकीकत हैं मिया आदमी पे मंत्र मारता और पूझता तो वह आदमी बताता की हम कितने bhoot pret  कोई तो बताता की हम 1000 तो कोई 800 मिया कहता की 300 को छोड़कर 500 को फ़ासी लगा दो और आदमी दुबारा बेहोश हो जाता था एसे कई लोगो इलाज कर चूका था मेने दो कैस बहुत जटिल देखे जो मिया से भी नहीं सभल नहीं रहे थे bhoot pret ki sachhi kahani.








1-:  से एक ओरत थी जिसको बच्चा नहीं हो रहा था  जब मिया ने मंत्र मारकर पूझा तो वह ओरत झुमने लगी जब मिया ने डटकर पूझा तो वह ओरत बोलने लगी लेकिन आबाज ओरत की थी लेकिन बोल भूत प्रेत रहे थे मिया को भूत प्रेतों ने बताना चालू किया तो बड़ी तहजीब से वह भू बात कर रहे थे









मिया - कौन हो तुम इसके शारीर में क्या कर रहे हो



भूत प्रेत - आप हम पर क्यों नाराज हो रहे हो हम अपनी मर्जी से नहीं आये हैं हमें तो भेजा गया हैं . हम तीन भूत हैं











मिया - तुम्हे किसने भेजा हैं



भूत प्रेत - की इस ओरत का शादी से पहले किसी आदमी से प्रेम प्रसंग चला था जब इस ओरत की शादी हो गयी तो वह आदमी इस ओरत को चोदना नहीं चाहता था तो यह आदमी एक तांत्रिक के पास जाकर इस ओरत पर जादू टोना करा देता ताकि इस ओरत के बच्चा न हो और इसका आदमी इसको छोड़ दे और मेरी लाइन क्लियर हो जाए उस तांत्रिक ने हम तीनो भूतो प्रेतों को इस ओरत पर साबार होने को हमें मजबूर किया हमारी इसमें कोई गलती नहीं हैं .






मिया -  का तुम क्या करते हो









भूत प्रेत - जब यह ओरत प्रेग्नेट हो जाती हैं तो एक महीने के बच्चे के साथ हम खून की होली खेलते हैं .









इसलिए उस ओरत को बच्चे नहीं हो प् रहे थे यह भूत प्रेत बच्चे को पेट में ही मार दिया कर देते थे उस ओरत का भी यही कहना था की एक महीने बाद में पेट में दर्द होता गुप्त अंग से खून निकलना चालू हो जाता था . इस कैस को मिया कब ठीक किया हो यह में नहीं जानता मेने सिर्फ 2 से 3 घंटे में ये सब देखा था .)












bhoot pret ki sachhi kahani bhooto ki duniya  in hindi
bhootkikahani.in



2-: एक सुंदर सी लड़की मिया के सामने बेठादी जाती हैं बेठने के बाद मिया जब उस लड़की पर मंत्र मारता हैं . तो वह लड़की झुमने लगती हैं वह लड़की झुमने के साथ अपना सीना भी हिला रही थी यह देख मिया को गुस्सा आ गया और चिल्ला कर उस लड़की से पूझा तू कौन है फिर पूझा कई बार पूझने पर भी वह लड़की कुछ न बोली मिया लड़की सर पर हाथ रख कर फिर पूझता हैं तब जाकर लड़की बोलती हैं जेसे ही बताती हे तो में कैमरा ओन कर लेता हूँ उस लड़की के मुह पर हाईलोजन की चमक पड़ती है तो मेरे तरफ को वह लड़की आँखें निकाल कर पड़ती हैं मेरी तरफ को झपट्टा मार टी दर से में हाईलोजन को बंद कर देता एसा मेरे साथ तीन बार हुआ मिया ने इशारे से मुझे कैमरा बिलकुल बंद को कहा मेने कैमरा बंद करके पूरा नजारा देखने लगा.










bhoot pret ki sachhi kahani bhooto ki duniya  in hindi
bhootkikahani.in


मिया - तू कौन हे इसके शारीर में क्या कर रहा हैं ये घिनोनी हरकत क्यों कर रहा हैं . तेरे घर में माँ बहन नहीं थी कभी साले

जिन्न - में एक जिन्न हूँ और तू मुझे इस तरह से गाली मत दे बरना अच्छा नहीं होगा .



मिया गुस्से में आकर जिन्न पर चीख कर बोला तू इस लड़की के शारीर में केसे आया 


जिन्न - तू मुझ पर इस तरह मत चिल्ला अगर दम हैं तो बहार निकल में तुझे अभी बताता हूँ की किस में कितना दम हैं तू इश्वर की जगह बेठ कर मुझ पर दादागिरी दिखा रहा हैं अगर तेरे में इतनी शक्ति हैं बहार आकर मुकाबला कर ले कौन किस पर हाबी होता हैं कौन कितना ताक़तवर हैं ये सब पता चल जायेगा



( मिया थोडा नरमी से जिन्न से बात करने की कोशिश करता हैं )





मिया-  तुम ये बताओ की इस लड़की के शारीर में केसे गुशे और ये गिनोनी हरकत कर रहे हो









जिन्न- में इस लड़की के शारीर में इसलिए गुसा क़ि इसके शारीर से बहुत अच्छी खुसबू आ रही थी ये खुसबू मुझे बहुत पसंद इस लिए में इसके शारीर में गुसा और इसके शारीर के हिलाने से मुझे बहुत आता हैं इसलिए में ऐसा करता हूँ



























ये घंटे मेने सब देखा तब मुझे पुरे तरीके यकीन हुआ की भूत प्रेत होते हे हम इस चीज को झुटला नहीं सकते उसके बाद इन मरीजो का हुआ ये तो ऊपर बाला जान सकता.













दोस्तों आपको यह पोस्ट केसी लगी कृपया कमेंट में बताये और इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा शेयर करे धन्यवाद आपका दिन शुभ हो

Post a Comment

64 Comments

  1. Yes a hot a hai ye Sacha me hotel he

    ReplyDelete
  2. sir aapka dil se dhanyabad hamari kahani aapne padi thanx for comment

    ReplyDelete
  3. Excellent post. Keep writing such kind of info on your site.
    Im really impressed by your site.
    Hello there, You've done a fantastic job. I'll certainly digg it and
    personally recommend to my friends. I'm confident they'll be benefited from
    this web site.

    ReplyDelete
  4. thank you sir hamari kahani aapko acchi lagi

    ReplyDelete
  5. Hi there! I know this is kind of off topic but I was wondering which blog platform are you using for this site?
    I'm getting sick and tired of Wordpress because I've had problems with hackers and I'm
    looking at alternatives for another platform. I would be great if
    you could point me in the direction of a good platform.

    ReplyDelete
  6. I just like the valuable information you provide on your articles.
    I'll bookmark your weblog and check once more
    here frequently. I'm rather sure I'll be informed many new stuff right right here!
    Good luck for the following!

    ReplyDelete
  7. namaste sir aap wordpress par kaam kar rahe hai. hum ek yesa blog bana rahe hai jo aapko batayega ki aap kis pletform par kaam karna behtar rahega. kuchh deri ho sakti hai jald jald hum blog ko aapke samne layenge

    ReplyDelete
  8. This is a topic that's near to my heart... Best wishes! Where are your contact details though?

    ReplyDelete
  9. I am no longer sure where you're getting your info, however good topic.
    I needs to spend some time learning more or understanding more.
    Thanks for magnificent info I used to be on the lookout for this information for my mission.

    ReplyDelete
  10. Amazing! Its genuinely amazing piece of writing, I have got
    much clear idea on the topic of from this piece of writing.

    ReplyDelete
  11. hamari kahani padne ke liye aapka dil se dhanyabad

    ReplyDelete
  12. Saved as a favorite, I like your blog!

    ReplyDelete
  13. Hi everyone, it's my first visit at this website,
    and article is really fruitful for me, keep up posting such articles.

    ReplyDelete
  14. sir hum koshish karte rahenge ki aapko is tarah ki jankari pradan kar sake comment karne ke liye aapka bahut bahut dhanyabad

    ReplyDelete
  15. I am curious to find out what blog system you are working with?
    I'm experiencing some small security issues with my latest blog and I would like to find something more risk-free.
    Do you have any solutions?

    ReplyDelete
  16. Definitely believe that which you said. Your favorite reason appeared to be on the
    net the simplest thing to be aware of. I say to you, I definitely get irked while people
    consider worries that they plainly do not know about. You managed to hit the nail upon the top and also defined out the whole thing without having side effect ,
    people can take a signal. Will likely be back to
    get more. Thanks

    ReplyDelete
  17. Hello! I understand this is sort of off-topic but I had to
    ask. Does building a well-established website such as yours
    require a large amount of work? I'm brand new to blogging however I do write in my diary every day.
    I'd like to start a blog so I will be able to share my own experience and views online.

    Please let me know if you have any kind of ideas or tips for
    new aspiring blog owners. Appreciate it!

    ReplyDelete
  18. mahnat karte rahna yahi ek moolmantra hai

    ReplyDelete
  19. Pretty nice post. I just stumbled upon your weblog and wanted to say that I've truly enjoyed browsing your
    blog posts. In any case I will be subscribing to your feed and I hope you write again very soon!

    ReplyDelete
  20. thanx for comment sir hum jaldi hi aapke liye ek post layenge

    ReplyDelete
  21. each time i used to read smaller articles which also clear their motive, and that is also happening with
    this article which I am reading at this time.

    ReplyDelete
  22. Thank you for the good writeup. It in fact was a amusement account it.
    Look advanced to more added agreeable from you!
    By the way, how can we communicate?

    ReplyDelete
  23. I feel this is among the so much important info for me.
    And i'm happy studying your article. But should observation on some basic things, The web site style is wonderful, the articles is
    in reality excellent : D. Just right activity, cheers

    ReplyDelete
  24. Hey very nice blog!

    ReplyDelete
  25. Hi there colleagues, good post and fastidious urging commented at
    this place, I am in fact enjoying by these.

    ReplyDelete
  26. Thanks for sharing such a nice thought, piece of writing is fastidious, thats why i
    have read it completely

    ReplyDelete
  27. hamari kahani padne ke liye aapka dil se dhanyabaad

    ReplyDelete
  28. Hey there, I think your blog might be having browser compatibility issues.

    When I look at your blog site in Firefox, it looks fine but when opening in Internet Explorer,
    it has some overlapping. I just wanted to give you a quick
    heads up! Other then that, excellent blog!

    ReplyDelete
  29. ok sir aapko paresani ko hum samajh sakte hai hum jald is site ek acche virgine me upgrate karne vaale hai thanx for comment

    ReplyDelete
  30. My partner and I stumbled over here different
    website and thought I might check things out. I like
    what I see so now i'm following you. Look forward to looking into your web page for a second time.

    ReplyDelete
  31. You really make it seem so easy with your presentation but I find this matter to be actually something
    that I think I would never understand. It seems too complex and extremely broad for me.
    I'm looking forward for your next post, I'll try to get the hang of it!

    ReplyDelete
  32. hamari kahani padne ke liye aapka dil se dhanyabaad haa hi nai post aayegi

    ReplyDelete
  33. Right here is the perfect website for everyone
    who hopes to find out about this topic. You know so
    much its almost hard to argue with you (not that I really will need to…HaHa).
    You certainly put a brand new spin on a topic
    that has been discussed for many years. Wonderful
    stuff, just great!

    ReplyDelete
  34. We are a group of volunteers and starting a new scheme in our community.

    Your site provided us with valuable info to work on. You've done
    an impressive job and our whole community will be grateful to you.

    ReplyDelete
  35. We are a gaggle of volunteers and opening a new scheme in our community.
    Your site offered us with useful information to work on. You've performed an impressive process and our entire community can be grateful to you.

    ReplyDelete
  36. Hurrah, that's what I was looking for, what a material!
    present here at this weblog, thanks admin of this web site.

    ReplyDelete
  37. I am sure this paragraph has touched all the internet users,
    its really really nice article on building up new webpage.

    ReplyDelete
  38. I'm really enjoying the design and layout of your website.
    It's a very easy on the eyes which makes it much
    more enjoyable for me to come here and visit more often.
    Did you hire out a developer to create your theme?
    Exceptional work!

    ReplyDelete
  39. sir aap bhi aesa design bana sakte hai ye vilkul free hai aur hamne kisi se is theam ko nahi banbaaya hai

    ReplyDelete
  40. I am really delighted to glance at this webpage posts which includes plenty of helpful data, thanks for providing these information.

    ReplyDelete
  41. बहुत बढ़िया कहानी आप और डरावनी कहानी पढने के लिए हमारा ब्लॉग चेक कर सकते हैं

    जब मेहंदीपुर वाले बालाजी ने दिलाई प्रेत-आत्माओं से मुक्ति Horror Story In Hindi

    https://www.hindishayaricollections.com/2019/05/horror-story-in-hindi.html

    ReplyDelete
  42. Alex9, this message is your next piece of info. Immediately message the agency at your convenience. No further information until next transmission. This is broadcast #4533. Do not delete.

    ReplyDelete
  43. Dreamwalker, this drop is your next bit of information. Feel free to message the agency at your convenience. No further information until next transmission. This is broadcast #5629. Do not delete.

    ReplyDelete
  44. Alex9, this message is your next piece of info. Do contact the agency at your earliest convenience. No further information until next transmission. This is broadcast #4947. Do not delete.

    ReplyDelete
  45. Google

    Here is a superb Weblog You might Find Interesting that we encourage you to visit.

    ReplyDelete
  46. Im grateful for the article.Really thank you! Much obliged.

    ReplyDelete